दुष्यंत चौटाला कैसे बनें दमदार नेता – पूरी कहानी

दुष्यंत चौटाला कैसे बनें दमदार नेता – पूरी कहानी

दुष्यंत चौटाला कैसे बनें दमदार नेता – पूरी कहानी

News Josh: हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला का जन्म 3 अप्रैल 1988 (उम्र 32) को हिसार में हुआ. दुष्यंत चौटाला संसद (16 वीं लोकसभा) के सदस्य थे और आपको बता दें की भारतीय संसद के इतिहास में दुष्यंत सबसे कम उम्र के सदस्य हैं. अब चौटाला हरियाणा के उपमुख्यमंत्री हैं. 2019 में हुए हरियाणा विधानसभा में उन्होंने भाजपा के उम्मीदवार प्रेमलता के खिलाफ चुनाव लड़ा था. जिसमें उन्होंने 47000 से अधिक मतों के अंतर से जीत दर्ज की हैं.

Dushyant Chautala ने प्रारम्बिक शिक्षा सेंट मैरी स्कूल हिसार और द लॉरेंस स्कूल, सनावर हिमाचल से प्राप्त की हैं. कॉलेज डिग्री की बात करें तो दुष्यंत ने B.Sc (Business Administration) की पढ़ाई कैलिफ़ॉर्न्या स्टेट यूनिवर्सिटी अमेरिका से की हैं. साथ-साथ दुष्यंत में नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी, दिल्ली से ‘मास्टर्स ऑफ लॉ की डिग्री भी पूरी की हैं.

दुष्यंत चौटाला हरियाणा के इतिहास में सबसे युवा उपमुख्यमंत्री हैं. पिता का नाम अजय चौटाला हैं और माता का नाम नैना चौटाला. दुष्यंत हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला व उपप्रधानमंत्री चौधरी देवी लाल के पौते हैं. दुष्यंत की शादी 18 अप्रैल 2017 को मेघना चौटाला से हुई.

राजनैतिक जीवन की बात करें तो 2014 के लोकसभा चुनावों में दुष्यंत ने कांग्रेस नेता कुलदीप बिश्नोई को 31,847 वोटों से हराया था. लेकिन पारिवारिक तनाव व मतभेद के चलते दुष्यंत चौटाला को इनेलो से निष्कासित कर दिया गया था. जिसके बाद दुष्यंत ने अपनी खुद की पार्टी जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) की शुरुआत की. जेजेपी का पहला चुनाव जींद का उपचुनाव था जहां जेजेपी की हार हुई मगर वहाँ JJP दूसरे नम्बर पर आयी थी.

News Josh Live

यह भी पढ़ें

कुछ खास x