विधानसभा चुनावों के नए समीकरण क्या कहते हैं – देखिए

हरियाणा में कल विधानसभा चुनावों के लिए मतदान होने हैं. बीती 19 अक्तूबर को चुनाव प्रचार-प्रसार पर रोक लगा दी गयी हैं. अब सभी तो इंतजार मतदान और रिज़ल्ट का हैं. हमारी टीम News Josh के सर्वे व इन्पुट्स नें एक चुनावी सर्वे तैयार किया हैं. आइए देखते हैं की कौन होगा इस दिवाली हरियाणा का राम.

देखिए सर्वे

न्यूज जोश के सर्वे के अनुसार भाजपा पूर्व बहुमत से सरकार बना सकती हैं. लेकिन यह बिना सहारे के खाई पार करने जैसा होगा. क्योंकि प्रदेश में कांग्रेस व नई पार्टी का जनाधार भी मजबूत दिखाई दिया.

रोहतक के हुड्डा परिवार की जीत हो सकती हैं. टोहाना हल्के से जेजेपी प्रत्यक्षि देवेंद्र सिंह बबली अबकि बार रेस में आगे हैं. उचाना सीट पर तनातनी जारी हैं जीत किसकी हो सकती हैं यह कहना मुश्किल हैं. अगर उचाना सीट से JJP हारती हैं तो पार्टी को बड़ा झटका लग सकता हैं. दादरी सीट से बबिता फौगाट कड़ी टक्कर में तो है लेकिन सांगवान वोट ज़्यादा होने के कारण मामला पेचीदा हैं. नरवाना विधानसभा क्षेत्र से भाजपा और जेजेपी में कड़ी टक्कर देखने को मिली व कांग्रेस की प्रत्यक्षि विद्या रानी भी रेस में हैं.

बात करें करनाल विधानसभा सीट की तो मनोहरलाल खट्टर की जीत लगभग तय हैं. महम सीट से कांग्रेस के आनंद डांगी आगे हैं. कलायत से जय प्रकाश की जीत लगभग तय हैं. कैथल में भाजपा और कांग्रेस में कड़ी टक्कर हैं लेकिन कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला रेस में आगे हैं.

भाजपा

भारतीय जनता पार्टी का लगभग 6-7 सीटों पर किसी का मुकाबला नहीं हैं. 42 सीटों पर मुकाबला आमने-सामने का हैं. बाकी सीटों पर मुकाबला त्रिकोणीय रहेगा.

कांग्रेस

कांग्रेस की भी 6-7 सीटों ऐसी हैं जिनपर अन्य पार्टियों का कोई चांस दिखाई नहीं दे रहें. 30 के लगभग सीटें ऐसी है जहां कांग्रेस BJP और JJP को कड़ी टक्कर दे रही हैं.

जेजेपी

एक साल पुरानी पार्टी जननायक जनता पार्टी भी विधानसभा चुनावों में राष्ट्रीय दलों को अच्छी-खासी टक्कर दे रही हैं. 4-5 सीटें जेजेपी के पक्ष में निश्चित हैं. अन्य सीटों पर जजपा BJP और Congress को टक्कर दे रही हैं.

अगर आँकड़ो की बात की जाए तो भाजपा 42-44 सीटें लेकर दौबरा सत्ता में पैर जमा सकती हैं. जजपा के खाते में 28-30 सीटें आ सकती हैं. कांग्रेस में आपसी फुट के कारण कांग्रेस अबकि बार पीछे रह सकती हैं. कांग्रेस को 14-16 सीटें मिल सकती हैं. इनेलो के खाते में 1-2 सीटें आ सकती हैं. अन्य दल 1 सीट पर अपनी जीत का जशन मना सकता हैं.